विपणन नेटवर्क

सर्वोत्तम सेवाओं द्वारा किसानों की संपूर्ण संतुष्टि एनएफएल की विपणन नीति का प्रमुख उद्देश्य है । कंपनी ने खेत स्तर पर फसलों की उत्पादकता में सुधार करने से लेकर कृषक-समुदाय के समग्र विकास के लिये अपने कार्यक्रमों का विस्तार किया है ।
किसानों को सही समय पर उच्च क्वालिटी के उत्पाद उपलब्ध करवाने के लिये एनएफएल ने व्यापक और एकीकृत विपणन नेटवर्क की स्थापना है|
कंपनी विभिन्न उर्वरक संवर्धन गतिविधियॉं व्यापक रुप से उपलब्ध करवाती है जिनमें कृषीय कार्यक्रम, एक्सटेंशन मीडिया का उपयोग, प्रचार और किसान विकास कार्यक्रम शामिल हैं |



एनएफएल के कार्य-क्षेत्र

मिट्टी परीक्षण सेवाएं किसानों को निशुल्क दी जाती हैं ताकि वे कम खर्च पर संतुलित उर्वरकों का उपयोग कर सकें । चल मिट्टी-परीक्षण वाहन
दूर-दराज के क्षेत्रों में किसानों की मिट्टी-परीक्षण की आवश्यताओं को पूरा करता है और खेत-स्तर पर तकनीकी जानकारी उपलब्ध करवाता है |

मिट्टी परीक्षण सेवाएं

खेतों के लिये अन्य सेवाओं में, किसानों के खेतों में उर्वरक प्रदर्शन, खेत दिवस, उर्वरक / किसान मेला, पॉयलेट प्रोजैक्ट, गांवों को गोद लेना आदि शामिल हैं | एनएफएल किसानों को उर्वरक के संतुलित एवं सही समय पर उपयोग के प्रति शिक्षित करने और कीटनाशकों और फंगसनाशकों के उपयोग पर मार्ग-दर्शन देने हेतु विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन करता है |


किसानों को शिक्षित करना


विजयपुर में स्थित एनएफएल का किसान प्रशिक्षण केन्द्र छोटे और सीमांत किसानों, विशेषतया जो मध्यप्रदेश के आदिवासी क्षेत्रों से संबंधित हैं, की प्रशिक्षण की जरूरतों को पूरा करता है । प्रशिक्षण कार्यक्रम किसानों की आवश्यकता के अनुरूप बनाये जाते हैं |
भारत की आजादी की 50वीं वर्षगांठ मनाने के लिए कंपनी ने एक सतत एकीकृत ग्रामीण विकास कार्यक्रम कार्य शुरू किया है जिसका शीर्षक 'सुलभ, नेशनल फर्टिलाइजर डवलेपमैंट इनीशियेटिव फॉर ट्राइबल एरियाज (SUNDIATA) है | गरीबी उन्मूलन में कृषक समुदाय की मदद करना तथा आर्थिक दृष्टि से आत्म-निर्भर होने की प्रक्रिया में लोगों का सशक्तीकरण, इस परियोजना का उद्देश्य है |