एमओयू


सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों को उच्चतर आप्रेशनल स्वायतता देने और जवाबदेही को बढ़ाने के उद्देश्य से भारत सरकार ने 90 के दशक के प्रारम्भ में सझौता-ज्ञापन की अवधारणा को लागू किया था । 1991 की नई औद्योगिक-नीति ने प्रत्येक सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम के लिये अपने प्रशासकीय मंत्रालय के साथ समझौता-ज्ञापन पर हस्ताक्षर करना अनिवार्य कर दिया । इन वर्षों के दौरान एम ओ यू को पर्याप्त महत्व मिला है क्योंकि एक तो यह कम्पनी की ओवरआल कम्पोज़िट रेटिंग कुल समन्वित मूल्यांकन को दर्शाता है और इसके साथ ही एम ओ यू के माध्यम से आंशिक रुप से कम्पनी के मख्य कार्यकारी अधिकारी की परफारमैन्स भी देखी जाती है । एम ओ यू के माध्यम से सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम की परफारमैन्स की निगरानी की वर्तमान प्रणाली को और सुदृढ़ करना भारत सरकार की वर्तमान नीति का महत्वपूर्ण अंग है ।

एन एफ एल ने 1991-92 के वर्ष से एम ओ यू पर हस्ताक्षर करने आरम्भ किये थे और अधिकांश वर्षों में इसकी परफारमैन्स को उत्कृष्ट आंका गया है । कम्पनी ने अभी वर्ष 2016-17 के लिए उर्वरक विभाग के साथ एम ओ यू पर हस्ताक्षर किये। 

1991-92 से 2013-14 तक एम ओ यू के अंतर्गत एन एफ एल का मूल्यांकन निम्न प्रकार रहा 


समझौता ज्ञापन श्रेणी:

YEAR

RATING

2013-14

बहुत अच्छा

2012-13

अच्छा

2011-12

उत्कृष्ट

2010-11

उत्कृष्ट

2009-10

उत्कृष्ट

2008-09

उत्कृष्ट

2007-08

उत्कृष्ट

2006-07

उत्कृष्ट

2005-06

उत्कृष्ट

2004-05

उत्कृष्ट

2003-04

उत्कृष्ट

2002-03

उत्कृष्ट

2001-02

उत्कृष्ट

2000-01

उत्कृष्ट

1999-00

बहुत अच्छा

1998-99

अच्छा

1997-98

बहुत अच्छा

1996-97

ठीक

1995-96

उत्कृष्ट

1994-95

उत्कृष्ट

1993-94

उत्कृष्ट

1992-93

उत्कृष्ट

1991-92

उत्कृष्ट


 

क्या नया है

Signप्रैस विज्ञप्ति : एनएफ़एल ने तीसरा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया 

Signवित्तीय वर्ष 2016-17 के लिए अंकेक्षित वार्षिक लिखे | 

Signप्रैस विज्ञप्ति: वित्तीय वर्ष 2016-17 में एन.एफ.एल. को हुआ लाभ. 

Sign18.05.2017 को निदेशक मण्डल की बैठक की सूचना | एवं प्रैस सूचना

Signसूचना - ट्रेडिंग विंडो बंद करना|

Sign18.05.2017 को निदेशक मण्डल की बैठक की सूचना |

Signशेयरधारकों के विवरण जिनके शेयर आईईपीएफ को हस्तांतरण हेतु अपेक्षित हैं

Signप्रेस विज्ञप्‍ति - एन एफ़ एल में चम्‍पारण सत्‍याग्रह के शताब्‍दी समारोह का आयोजन

Signएन. एप. एएल. टाउनशिप शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, भटिंडा भें व्यापार संचारन के लिए दुकानों के आवंटन हेतु

Signसचिव (उर्वरक) ने एनएफएल, पानीपत संयंत्र का दौरा ककया

Signएनएफएल ने 2016-17 में उत्पादन व बिक्री के नये रिकार्ड बनाए

Signएन.एफ़.एल. लोटस लेडीज िेलफेयर क्लब ने की जरूरतमन्द लड़ककयों की मदद

Signपानीपत यूनिट में उपलब्ध अलग पड़े पत्थरों के खुली बिक्री के माध्यम से निपटान हेतु निबंधन एवं शर्तें। मात्रा – 30000 एमटी (एनएफपी/एसटी/डी-247)






Notice of Annual General Meeting and Book Closure.